जी-20 मीटिंग से पहले सामने आई पाकिस्तान की घिनौनी साजिश, दिल्ली पर हमले करने की थी तैयारी वीडियो के जरिए किया था दावा

एक बार फिर पाकिस्तान भारत की राजधानी दिल्ली में हमला करने के लिए साजिश रच रहा है। खुफिया एजेंसियों से मिला इनपुट इस साल जी-20 की मीटिंग से पहले पता चल गया की पाकिस्तान में मौजूद आतंकवादी संगठन भारत पर आतंकी संगठन हमला करने के तैयारी में है। दरअसल, जी-20 मीटिंग से पहले भारत की छवि को खराब करने के लिए जेश आतंकी संगठन भारत की राजधानी दिल्ली में हमला करने की साजिश कर रहे थे। बता दें ऐसा पहली बार नहीं है, की भारत का कुछ स्पेशल अवसर हो और पाकिस्तान में बैठे आतंकवादी भारत पर हमला करने की वारदात को अंजाम देने का सोचते इससे पहले भी कई बार ऐसी जानकारी मिली है, लेकिन भारत के मजबूत बल को देखते हुए पाकिस्तान में बैठे आतंकियों को अपने घुटने टेकने पड़ते है। हालांकि इस बार भी सुरक्षा के इंतजाम काफी कड़े बनाए गए है।

भारत की राजधानी दिल्ली में आतंकवादी हमला होने की जानकारी आई सामने, दरअसल भारत की खुफिया एजेंसियों ने किया है अलर्ट जारी उनका मानना है की जी-20 मीटिंग से पहले पाकिस्तान में मौजूद जेश संगठन दिल्ली में हमला करने की साजिश कर रहा है। साथ ही, बताया जा रहा है की, जेश भारत पर हमला कर भारत पर हमला करवा सकता है। ऐसे में 10,000 पुलिसकर्मी लाल किले पर तैनात किए गए है साथ ही, 1000 कैमरे वाले ड्रोन भी लगाए गए है।

बता दें जानकारी के मुताबिक आतंकवादियों की टारगेट लिस्ट पर भारत की राजधानी दिल्ली सबसे पहले नंबर पर है। जानकारी के मुताबिक फरवरी 2023 से आतंकवादी संगठन से जुड़े लोग दिल्ली में रेकी करने की कोशिश में थे। जबकि मई 2023 में एक अन्य आतंकवादी संगठन लश्कर-ेए-तैयबा से जुड़े लोग दिल्ली में रेकी कर रहे थे, दिल्ली की प्रमुख सड़क, रेलवे स्टेशन, दिल्ली पुलिस मुख्यालय और एनआइए के दफ्तर समेत दिल्ली के तमाम जगहों पर टोह लेने का निर्देश दिया गया है।

दरअसल मई 2023 में पीओके में सिथ्त एक आतंकी ने सोशल,मीडिया के जरिए एक वीडियो अपलोड कर दावा किया था की 15 अगस्त के उत्सव पर जेश आतंकी संगठन राजधानी दिल्ली समेत कई अन्य शहरों पर आतंकी हमला करने की साजिश रच रहा है। चूंकि 77 वे स्वतंत्रता दिवस पर हमला होगा तो बड़े पैमाने पर आतंकवादियों को नाम होगा वही भारत की छवि भी बेहद बुरी तरह खराब होगी इसलिए अगर भारत को खतरा है तो मुख्य रूप से खतरा पाकिस्तान में बैठे खतरनाक आतंकवादियों से है, इसके अलावा घरेलू आतंकी संगठन और सिख उग्रवादियों से भी खतरा बना हु है।

जानकारी ये भी है, की इस आतंकी हमले के लेय पाकिस्तान का खुफिया एजेंसी आईएसआई आतंकवादी जेश और लश्कर-ए-तैयबा को फंडिंग में मदद कर रहा है।

लाल किले में होगी भारी भीड़

आपको बता दें पिछले 2 सालों से कोविद के चलते तमाम पाबंदियों के कारण लाल किले पर ज्यादा लोगों को जाने की अनुमति नहीं थी। लेकिन इस बार 77 वा स्वयंत्रता दिवस लाल किला पर भारी मात्रा पर लोग पहुँचगे इस अवसर पर लाल किले के प्राचीर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पूरे देश को संबोधित करेंगे। जिसके चलते लाल किले के पास सुरक्षा के इंतजाम काफी कड़े रहेंगे इसी के साथ, 1000 कैमरे, एंटी-ड्रोन सिस्टम भी लगाए गए है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Exit mobile version