दो हजार के नकली नोट छापने वाले दो बदमाश हुए गिरफ्तार, फर्जी वेब सीरीज देख शुरू किए था ये काम, दिल्ली एनसीआर समेत पंजाब मे करते थे सप्लाई

हाल ही, में दिल्ली और आसपास के इलाकों से 2000 के नकली नोट सप्लाई होने की जानकारी सामने आई थी। जिसके बाद दिल्ली पुलिस तुरंत हरकत में आई और इनपुट मिलने के बाद से पुलिस ने 2000 के नोट छपने वाली गैंग के खिलाफ जानकारी जुटानी शुरू की जिसके बाद पता चला की। ये गैंग उत्तर प्रदेश के कैराना से ये धंधा चला रहे है।

दिल्ली पुलिस ने हाल ही में दो ऐसे बदमाशों को गिरफ्तार किया है जो की 2000 के जाली नोट छापकर दिल्ली समेत कई राज्यों में सप्लाई करते थे। दोनों ही आरोपी 40 साल से बड़े है, दरअसल ये दोनों आरोपीयो ने बताया की हाल में आई शाहिद कपूर की फर्जी वेब सीरीज देख इनको आइडिया मिला ऐसे नकली नोट छापने का जिसके बाद इन्होंने अपना काम शुरू कर दिया। हालांकि असली फायदा इन्होंने तब उठाया जब 2000 के नोट रद्द करने की घोषणा हुई थी उस दौरान नकली नोट छापकर सस्ते दामों में बदलना शुरू किया था। आपको बता दें की, पुलिस ने इन आरोपियों के पास से करीब 5 लाख 50 हजार रुपये जाली नोट बरामद किए। जबकि ये सभी नोट 2000 के बताए जा रहे है।

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल जानकारी मिली थी की दिल्ली और आसपास के इलाकों में कोई गैंग दो हजार के नकली नोट सप्लाई कर रहा है। जिसके बाद पुलिस ने इस मामले में बिना देरी करे पूरी जानकारी ली जिसमे पता चला की ये गैंग उत्तर प्रदेश के कैराना से 2000 के नकली नोट छपने का धंधा चला रहे है।

इस बीच दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को जानकारी मिली की, इस गैंग का एक बदमाश 2000 के नकली नोटों के साथ दिल्ली के अलीपुर में आने वाले है। जिसके बाद दिल्ली पुलिस की स्पेशल टीम ने दिल्ली के अलीपुर इलाके से ताजिम नाम के बदमाश को गिरफ्तार किया साथ ही, उसके पास से ढाई लाख के रुपयों के जाली नोट बरामद किए। ताजिम ने पूछताछ के दौरान उत्तर प्रदेश के कैराना में मौजूद इरशाद को भी गिरफ्तार कर लिया और उसके घर से भी 3 लाख के नकली नोट बरामद किए।

दिल्ली पुलिस ने बताया की पूछताछ के दौरान आरोपियों ने उन्हे बताया की फायदे को देखते हुए नकली नोट छापने का काम अपनी दुकान में ही शुरू कर दिया था। और फिर उसको सप्लाई भी करना शुरू किया। आरोपियों ने बताया की नकली नोट छपने के लिए स्पेशल स्याही इनको कई वेबसाईट पे सर्च करने के बाद मिली थी, इतना ही नहीं एक प्रिंटर और बड़िया पेपर का भी इन्होंने इंतजाम किया था।

इसे भी पढे :वो बेहद खौफ में था जाना भी नहीं चाहता था फिर, टाइटन पनडुब्बी हादसे में मारे गए पिता और बेटे को लेकर परिवार वालों ने किया खुलासा

पुलिस के मुताबिक इन दोनों आरोपियों को ये नकली नोट छापने का आइडिया फर्जी वेब सीरीज देख के मिला था, आपको बता दें की ये आरोपी इन नकली नोटों को दिल्ली से लेकर पंजाब तक इन नकली नोटों की सप्लाई करते थे। हालांकि अभी भी पुलिस इस मामले की जांच कर रही है और उनसे जानना चाहती है की वह अब तक कितने जाली नोटों के कितने नोट सप्लाई के दहुके है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Exit mobile version